उत्तराखण्ड ने मनाई राज्यगठन की 18वीं वर्षगांठ

uttarakhand celebrates 18th birth anniversary

देहरादून : राज्य गठन के 18 साल पूरे होने पर उत्तराखंड में राज्य स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया गया। विभिन्न जनपदों में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गये । वहीं राजधानी में पुलिस लाइन में रैतिक परेड का आयोजन किया गया। साथ ही सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ ही सरस मेला भी आयोजित किया गया।

राजधानी स्थित पुलिस लाइन में सुबह रैतिक परेड की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने सलामी ली। इस मौके पर सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के साथ ही भाजपा सांसद रमेश पोखरियाल (Ramesh Pokhariyal), भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट (Ajay Bhatt) के साथ ही सरकार के मंत्री भी मौजूद रहे। दोपहर को परेड मैदान में सीएम ने सरस मेले का उद्घाटन किया ।

शाम को नगर निगम में सांस्कृतिक कार्यक्रमों  के साथ उत्तराखंड स्थापना दिवस बड़ी धूम धाम से मनाया गया।

राष्ट्रपति ने दी बधाई

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) ने ट्विटर पर उत्तराखंड स्थापना दिवस पर राज्य के सभी निवासियों को बधाई के साथ ही शुभकामनाएं दीं। उन्होंने ट्वीट किया कि मेरी कामना है कि यह राज्य, आने वाले वर्षों में निरंतर समृद्ध और विकसित होता रहे।

विकास के पथ पर आगे बढ़े उत्तराखंडः मोदी

वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने ट्विटर पर ट्वीट किया कि- देवभूमि उत्तराखंड के स्थापना दिवस पर राज्य के लोगों को हार्दिक शुभकामनाएं। प्रकृति, प्रगति और समृद्ध संस्कृति की अनमोल संगम-स्थली यह प्रदेश विकास के पथ पर निरंतर नए कीर्तिमान स्थापित करे।

देवभूमि के गौरव को पुनर्स्थापित करने का निरंतर प्रयासः अमित शाह

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah)  ने उत्तराखंड के स्थापना दिवस पर प्रदेशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं दी। साथ ही ट्वीट किया कि श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी ने उत्तराखंड का निर्माण किया और आज प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के नेतृत्व में भाजपा देवभूमि के गौरव को पुनर्स्थापित करने के लिए निरंतर प्रयासरत हैं।

देवभूमि और वीर भूमि है उत्तराखंडः राजनाथ सिंह

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने भी उत्तराखंड राज्य के स्थापना दिवस पर प्रदेशवासियों को बधाई व शुभकामनाएं देते हुए कहा कि उत्तराखंड देव भूमि है और वीर भूमि भी। यह राज्य अब विकास भूमि के रूप में भी स्थापित हो रहा है। उत्तराखंड उत्तरोत्तर प्रगति करता रहे, यही ईश्वर से कामना है।

कानून व्यवस्था बनाने में पुलिस की भूमिका अहम

पुलिस लाइन में रैतिक परेड की सलामी लेने के बाद राज्यपाल बेबी रानी मौर्य (Baby Rani Morya) ने कहा कि समाज में कानून व्यवस्था बनाने में पुलिस की अहम भूमिका है। कार्य की चुनौती को देखते हुए पुलिस को 24 घंटे ड्यूटी कर जिम्मेदारी का बखूबी निभानी पड़ती है। उन्होंने कहा कि 18 सालों में राज्य ने विकास और आर्थिकी में बेहतर प्रदर्शन किया है। अन्य राज्य की तुलना में आर्थिक दर अच्छी रही है।

उन्होंने कहा कि विकास की चुनौती अभी भी बाकी है। समस्याएं राज्य के सामने है इन सबको दूर करने के कार्य करना होगा। कठिनाइयां मनुष्य का गहना होती है। उन्होंने कहा कि पर्वतीय इलाकों में आर्थिक और रोजगार के साथ शिक्षा की पहुंच को आसान बनाया जाए। साथ ही उन्होंने शिक्षा पर महिलाओं के प्रथम अधिकार की बात कही।

इस दौरान मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत (Trivendra Singh Rawat) ने कहा कि राज्य के विकास के लिए सरकार ने कही नीतिगत परिवर्तन किया है। उन्होंने आपदा के दौरान पुलिस की भूमिका की सराहना की। कहा कि एक वर्ष के भीतर पुलिस ने नए कीर्तिमान स्थापित किए हैं। साइबर अपराधियों से लेकर आपदा प्रबंधन और अनुशासन में पुलिस ने मर्यादा का ख्याल रखा है। राज्य में नए कीर्तिमान बनाए।

इस मौके पर बेहतर और सर्वश्रेष्ठ कार्य करने वाले पुलिस पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को पुलिस पदक से सम्मानित किया गया कार्यक्रम में पर्यटन मंत्री प्रकाश पंत (Prakash Pant) उच्च राज्य मंत्री धन सिंह रावत (Dhan Singh Rawat), डीजीपी अनिल कुमार (DGP Anil Kumar), डीजे अशोक कुमार एसपी यूनिवर्सिटी निवेदिता कुकरेती उपस्थित थे।

 यह भी पढ़ें :

आखिर कैसे हुआ दीपावली पर पटाखों का प्रचलन

डॉ राकेश चंद रमोला: एक परिचय

आयुषमान भारत योजना में फ्लेबोटोमिस्ट की बढ़ती मांग

उत्तराखंड: सर्दी के मौसम में निकाय चुनावों की सियासी गर्माहट

Releated Post