लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा ने गहलोत को दी राज्य की कमान

Gehlot To be State incharge of Uttarakhand for LS election 2019

2014 लोकसभा चुनाव में उत्तराखंड की सभी पांचों सीटें जीतने वाली सत्ताधारी भाजपा ने इस बार भी इन्हें अपने पास बरकरार रखने के लिए कमर कस ली है। पार्टी इसे लेकर किसी भी प्रकार की लापरवाही से परहेज कर रही है। केंद्रीय मंत्री थावरचंद्र गहलौत (Thawar Chand Gehlot) को राज्य की पांचों लोकसभा सीटों का प्रभारी बनाए जाने को इसी कड़ी के रूप में देखा जा रहा है। वह पूर्व में उत्तराखंड के प्रभारी रह चुके हैं और यहां की सियासत के साथ ही परिस्थितियों से भलीभांति वाकिफ हैं।

विधानसभा में प्रचंड बहुमत हासिल करने वाली भाजपा के सामने लोकसभा चुनाव में भी ऐसा ही प्रदर्शन दोहराने की चुनौती है। पिछले लोकसभा चुनाव में राज्य से पांचों सीटें भाजपा की झोली में गई थीं और कांग्रेस को सभी सीटों में सत्ताधारी होने के बावजूद शिकस्त का सामना करना पड़ा था।

इसके बाद विस चुनाव और फिर निकाय चुनावों में भाजपा को मिली मिश्रित सफलता के बाद पार्टी ने पूरा ध्यान 2019 लोस चुनाव पर केंद्रित कर लिया है। यही नहीं भाजपा का राष्ट्रीय नेतृत्व भी इस लिहाज से उत्तराखंड को बेहद गंभीरता से ले रहा है। निकाय चुनावों में मिश्रित जनादेश ने भाजपा के खेमे में थोड़ा खलबली का माहौल तो पैदा कर दी  है।

इस कड़ी में लोकसभा चुनाव के मद्देनजर राज्य की पांचों सीटों के लिए केंद्रीय मंत्री एवं वरिष्ठ नेता थावर चंद्र गहलौत को राज्य प्रभारी की जिम्मेदारी सौंपी गई है। असल में, गहलौत पूर्व में पार्टी के उत्तराखंड प्रभारी रह चुके हैं और वह यहां की परिस्थितियों से भलीभांति परिचित हैं।

वरिष्ठ नेता गहलौत को राज्य में लोस चुनाव प्रभारी बनाकर केंद्रीय नेतृत्व ने यह संदेश देने का प्रयास भी किया है कि उत्तराखंड उसके लिए कितना अहम है। हाल, में भाजपा की राष्ट्रीय महामंत्री सरोज पांडेय (Saroj Pandey) ने भी उत्तराखंड दौरे के दौरान यह साफ किया था कि पार्टी को राज्य की पांचों सीटें हर हाल में जीतनी हैं। इसके लिए उन्होंने जीत के गुर सिखाने के साथ ही कुछ कमियों को इंगित कर इन्हें दूर करने के निर्देश प्रांतीय नेतृत्व को दिए थे। अब लोकसभा चुनाव में जनमत किस ओर रहेगा यह तो भविष्य ही बताएगा लेकिन दोनों मुख्य दल कांग्रेस और भाजपा अभी से इसकी तैयारियों में जुट गए हैं।

यह भी पढ़ें:

पाले से बस दुर्घटनाग्रस्त- बादशाही थौल, चम्बा (Badshahi Thaul, Chamba Tehri)

पौड़ी के ‘बंटी’ को फांसी पर लटकाने की मांग-  समाचार उत्तराखंड

पीएम मोदी ने अटलजी के सम्मान में जारी किया सिक्का, कहा- उनका जीवन पीढ़ियों को देगा प्रेरणा

उत्तराखण्ड हिमालयी क्षेत्र में बड़े भूकंप की प्रबल आशंका

उत्तराखंड के मंदिर में मिला 500 साल पुराना खजाना, ग्रामीणों ने डीएम को किया सुपुर्द

Releated Post