Tarak mehta Hathi died – कवि कुमार आजाद यानि डॉक्टर हंसराज हाथी हार्ट अटेक से निधन

hansraj hathi died

Doctor hansraj hathi | tarak mehta ka ooltah chashmah | tarak mehta news death | tarak mehta 2018 dead | hathi bhai | komal bahan | weight 200 kg | hansraj hathi | kavi kumar azad death | jun 2018 | Jetha laal | tarak mehta family | AIB |  tarak mehta ka ulta chashma |

हंसराज हाथी की  हार्ट अटैक बनी वजह निधन का मुख्य कारण।  

नई दिल्ली: ‘तारक मेहता  का उल्टा चश्मा (Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah)’ में आपको पहले वाली हंसी शायद ही देखने को मिले क्यों की प्रत्येक श्याम को आपको हँसाने वाले आपके सुपरहिट कैरेक्टर डॉ. हंसराज हाथी (hansraj hathi, Hathi Bhai) यानी कवि कुमार आजाद  जिनको आपने तारक मेहता का उल्टा चश्मा में ‘हाथी ‘ का रोल करते देखा होगा का निधन(died)  हो गया है.

डॉ. हंसराज हाथी गोकुलधाम सोसाइटी के ऐसे सदस्य थे, जिनको हर कोई प्यार से ‘हाथी’ भाई कहकर बुलाते थे , कॉमेडी सीरियल ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ में  हर कोई उनसे बहुत प्यार करता था, दर्शकों के चहेते हाथी भाई दर्शको के साथ साथ समेत पूरी सोसाइटी के चहेते थे.

कवि कुमार आजाद उर्फ़ डॉक्टर हंसराज हाथी (Hansraj hathi)  हमेशा खाना खाने के दीवाने रहते थे. शो में वे डॉक्टर की भूमिका में  थे, लेकिन ओवरवेट डॉक्टर की भूमिका में थे.  उनकी निधन का कारण  हार्ट अटैक बना, वे उस वक्त घर पर ही थे।

ऊपर वीडियो में देखे की किस तरह से पूरा का पूरा तारक मेहता परिवार हाथी भाई को उठाने के लिए आगे आया पर उनको उठा न पाया।  आपको बता दे की हाथी भाई वजन घटाने के लिए गए थे लेकिन आए वजन बड़ा कर।  बड़े मासूमियत से वो कोमल भाभी को बताते हैं की उनसे दिन भर कसरत कराई गई और कसरत के बाद उनको भूख लग जाती थी और उनको उस पर कण्ट्रोल नहीं रह पाता था।  इस लिए वजन घटाने के बदले वजन बढ़ा कर हाथी भाई सोसाइटी में प्रवेश किआ।  जिसको देख कर कोमल भाभी बेहोश हो गई।  आप  भी देखें कैसे डॉक्टर हंसराज हाथी ने किया सबको हंसा हंसा कर हैरान।

  • सूत्रों की माने तो कवि कुमार आजाद का आज सुबह ही प्रोड्यूसर के पास फोन आया था, और उन्होंने कहा था कि उनकी तबियत ठीक नहीं है इसलिए वे आज शो पर नहीं आ पाएंगे. लेकिन थोड़ी देर बाद ये बुरी खबर आ गई.
  • शो से जुड़े सूत्र बताते हैं कि वे तबियत खराब होने के बावजूद भी शो पर आते थे. वे शो से बहुत प्यार करते थे. ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ 10 साल पूरे करने जा रहा है, इसलिए आज सेट पर इसको लेकर एक मीटिंग भी थी. लेकिन उससे पहले ही ये बुरी खबर आ गई.
  • कवि कुमार आजाद बॉलीवुड में भी हाथ आजमा चुके थे, और ‘मेला (2000)’ में नजर आए थे. इस फिल्म में उनके साथ आमिर खान भी थे.

हाथी भाई का किरदार लोगो को हमेशा उनकी याद दिलाता रहेगा।

 

Releated Post