फर्जी विश्वविद्यालयों में एडमिशन से बचें, युजीसी ने जारी की फर्जी विश्वविद्यालयों कि लिस्ट……

प्रवेश  प्रक्रिया शुरू होने के साथ ही एक बार फिर छात्र छात्राओ ने एड़मिशन के लिए भागदौड़  शुरू  कर दी है। जिसके साथ ही युजीसी ने 24 फर्जी विश्वविद्यालयों fake universities की लिस्ट जारी की है ताकी छात्र फर्जी विश्वविद्यालयों (fake university admission) मे एडमिशन से बच सकें युजीसी ने नोटिस जारी करनें के साथ अन्य विश्वविद्यालय को भी कहा है कि वह अपनी वेब साइट पर 24 फर्जी विश्वविद्यालयों की सूची (fake university list ) अपलोड करें।

इन फर्जी  विश्वविद्यालयों से ली गई उपाधि मान्य नही होगी। यूजीसी ने कहा के यह विश्वविद्यालय यूजीसी अधिनियम 1956(University UGC ACT 1956)  का उल्लंघन कर रहें है।

 

फर्जी विश्वविद्यालयों की लिस्ट (List of Fake University)

1 मैथली विश्वविद्यालय दरभंगा बिहार

2 कॉमर्शियल यूनिवर्सिटी लिमिटेड नई दिल्ली

3 यूनाईटेड नेशंस यूनिवर्सिटी नई दिल्ली

4 वोकेशनल यूनिवर्सिटी नई दिल्ली

5 एडीआर -सेंट्रिक जरिडिकल यूनिवर्सिटी नई दिल्ली

6 एडीआर – सेंट्रिक जूरिडिकल यूनिवर्सिटी नई दिल्ली

7 विश्वकर्मा ओपेन यूनिवर्सिटी फॉर सेल्फ इम्प्लॉयमेंट नई दिल्ली

8 आध्यात्मिक विश्वविद्यालय नई दिल्ली

9 वाराणसेय संस्कृत विश्वविद्यालय नई दिल्ली

10 बडागानवी सरकार वर्ल्ड ओपन यूनिवर्सिटी एजुकेशन सोसाइटी गोकाक बेलगाम (कर्नाटक

11 सेंट जोन विश्वविद्यालय कृष्णट्म केरल

12 राजा अरेबिक यूनिवर्सिटी नागपुर

13 इंस्टीट्यूट ऑफ अल्टरनेटिव मेडिसन एंड रिसर्च कलकत्ता

14 महिला ग्राम विद्यापीठ इलाहाबाद

15 इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ ऑल्टरनेटिव मेडिसन कोलकाता

16 गांधी हिन्दी विद्यापीठ इलाहाबाद

17 नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ इलेक्ट्रो कम्प्लेक्स होम्योपैथी कानपुर

18 नेताजी सुभाष चंद्र बोस यूनिवर्सिटी अचलताल अलीगढ़

19 उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय कोसीकला मथुरा

20 महाराणा प्रताप शिक्षा निकतेन विश्वविद्यालय प्रतापगढ़

21 इन्द्रप्रस्थ शिक्षा परिषद इन्स्टीट्यूशनल एरिया नोएडा

22 नव भारत शिक्षा परिषद राउरकेला

23 नॉर्थ ओडीसा यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर एंड टेक्नोलॉजी उड़ीसा

24 स्त्री बोधी एकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन पुडुचेरी

यूजीसी ने सभी संस्थानों को फर्जी यूनिवर्सिटी करार दिया गया है और इन्हें डिग्री देने का अधिकार नहीं है आपको बता दें यहां से पासआउट होने वाले स्टूडेंटस की डिग्री मान्य नहीं होगी और उन्हें किसी भी नौकरी के लिए इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा….

Releated Post